Make money online

70 Affiliate program list हिंदी में

Kya aap janna chahate hai ke  kya hai aur kaise kaam karta hai to is post ko jarur padhe.

Affiliate Marketing  क्या है कैसे काम करता है |afffiliat marketing से पैसे कैसे कमाए

  ऐसे सारे सवाल को ले कर आपके मन में बहुत सारे quetion होंगे. आज के विषय में हम एफीलएट  म्मार्केटिंग के ऊपर ही बात करेंगे. आजकल के ज़माने। में  तो कंप्यूटर, इंटरनेट और ऑनलाइन शॉपिंग / एफिलिएट मार्केटिंग का ज़माना है. ऑनलाइन शॉपिंग का ट्रेंड्स चल रहा है और ये धीरे धीरे बहुत मशहूर होता जा रहा है

इसलिए बहुत से लोग ऑनलाइन काम करके पैसे कमाने में  दिलचस्पी दिखा रहे हैं और ईकॉमर्स साईट और personal blog बनाकर पैसे कमा रहे हैं. जो भाई लोग बहुत दिनों से online business कर रहे हैं उन्हें affiliate marketing के बारे में जरुर पता होगा

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है | Affiliate Marketing kia hai in Hindi

Affiliate marketing एक ऐसा बिजनेस है जिसके जरिये एक ब्लॉगर ( blogger ) किसी एक कंपनी के प्रोडक्ट को अपने वेबसाइट ( website ) के जरिये बिक्री करके कमीशन कमाता है. जो भी कमीशन मिलता है वो product पर निर्भर   करता है की वो किस type का product है जैसे फैशन( fashion ) और lifestyle categories पर ज्यादा और इलेक्ट्रोनिक product पर कम commission मिलता है.
किसी भी तरह के products को अपने वेबसाइट के जरिये promot करने के लिए आपके website या blog में ज्यादा traffic होना बहुत जरुरी है कम से कम 4000 से 5000 visitors per day. अगर आपका website newly है और उसमे कम विजिटर हो रहे हैं तो products का विज्ञापन अपने website में लगाने से आपको ज्यादा कमाई नहीं होगा. इसलिए बेहतर होगा की आप affiliate products को तभी अपने blog में जोड़ें जब आपके blog में visitors ज्यादा आने  लगेंगे.

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता है?

ये प्रश्न का उदाहरण उन लोगों को जानना बहुत ही जरुरी है जो की आनलाइन फील्ड ( Online field ) से जुड़े हुए हैं. अगर आप भी अपना affiliate marketing istart करना चाहते हैं  तो उनके लिए Affiliate Marketing कैसे काम करता है ये  जानना बहुत ही जरूरी होगा  अगर कोई product base company या organization अपने products की बिक्री बढ़ाना चाहता है 

इसके लिए उन्हें अपने products को प्रमोशन करना होता है.  इसीलिए उन्हें अपना affiliate program start करना होता है.


Affiliate Marketing का business commission आधारित  होता है. जब कोई अन्य व्यक्ति  आपने blogger या website  owner उस program को join करता है, तो इस progrm को स्टार्ट करने वाला company या ऑर्गेनाइजेशन उसे अपने blog या website पर उनके product promotions करने के लिए कोई बैनर या लिंक इत्यादि प्रदान करता है इसके पश्चात उस blogger को अपने blog या website पर उस लिंक या banner को अलग-अलग प्रकार से लगाना होता है.

क्योंकि उस blogger या website owner के sites में बहुत visitors रोज़ आते हैं इसलिए ये मुमकिन है की उनमें से कुछ visitor दिखाए गए offer को click करता है तब वो product आधारीत companies के websites में पहुँच जाता  है और कोई चीज़ खरीदता है या किसी service के लिए sign up करता है

तो उसके बदले में वह compony या organization उस blogger को इसके बदले में commission देता है।
एफिलिएट मार्केटिंग से जुड़े  कुछ महत्वपूर्ण Definitionsइस marketing में कुछ ऐसे terms and conditions का इस्तमाल होता है

1. Affiliates:  Affiliaters उन्हें कहा जाता है जो व्यक्ति किसी Affiliate program को ज्वाइन करके, उनके प्रोडक्ट को अपने किसी भी sources से जैसे की blog website या  यूट्यूब चैनल पर प्रमोट करते हैं. ये कोई भी इंसान हो सकता है.


2. Affiliate Marketplace:  कुछ ऐसी कम्पनी है जो अलग-अलग categerie में Affiliate Programs ऑफर करती हैं, उन्हें Affiliate Marketplace कहा जाता है.

3. Affiliate ID:  यह एक unique ID होता है जो की sign up करने पर प्राप्त होता है. Affiliate Programs के द्वारा हर एक Affiliate को एक unique ID दी जाती है, जो Sales me जानकारियां जुटाने में help करती है. इस ID के जरिए से आप अपने Affiliate account में login कर सकते हैं.


4. Affiliate link:  ये उस link को कहा जाता है जो की affiliate को product promotion करने के लिए provide किये जाते हैं. इस links को click करके ही Visitors किसी product website पर पहुँचते हैं, जहाँ वह कोई product खरीद सकते है. इस links के द्वारा ही Affiliate program चलाने वाले सेलर को track करते है.

 5. Commission:  एक successful selling हो जाने के बाद जो पैसे उस blogger या फिर जो selling कराता है एफिलिएट प्रोग्रामसे उसे commission कहा जाता है. ये amount Affiliate को हर एक खरीदारी के हिसाब से प्रदान कीया जाता है. यह खरीदारी का कुछ percent हो सकती है या पहले से निश्चित कोई लिमिट जैसे की terms and condition में पहले से बताया गया हो.


6. Link Clocking:  हमेशा Affiliate links बड़े और दिखने में थोड़े अजीब लगते है, इसके लिए ऐसे लिंक को URL shortners का इस्तमाल करके छोटा बनाया जाता है जिसे की Link Clocking  कहते हैं.

7. Affiliate manager:  कुछ Affiliate programs में Affiliates की मदद के लिए और उन्हें सही सुझाव का (tips और ट्रिक ) देने के लिए कुछ इंसान appointed  किये जाते है, उसे Affiliate मेनेजर कहलाते हैं.


8. Payment Mode:  पेमेंट पाने के तरीके को Payment Mode कहते हैं. इसका अर्थ ये है की वह माध्यम  जिसके द्वारा आपको उसकी commission दी जायेगी. अलग-अलग Affiliate पेमेंट modes offer करता हैं. जैसे कि Direct बैंक account cheque, wire transfer, PayPal  इत्यादि.

9. Payment Threshold:  एफिलिएट मार्केटिंग में affiliaters को तब कुछ commision प्रदान किए जाता है जब वो कुछ कम से कम  sale कर लें. इस sales को करने के बाद ही आप payment withdraw करने लायक बन जायेगे. इसे ही payment threshold कहा जाता है. अलग अलग affiliate programs की payment threshold की amount अलग अलग होती है.

एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए

आज के वक़्त में एफिलिएट मार्केटिंग से बहुत से blogger जुड़े हुए हैं और अच्छी खासी income भी कर रहे हैं, affiliate marketing के जरिये ब्लागिंग से पैसे कमाने का सबसे अच्छा तरीका है. Affiliate marketing से income करने के लिए हमें कोई भी एक affiliate program में जाकर रजिस्टर करना होगा.

Register करने के बाद उनके तरफ दिए गए ads और products के link  हमें अपने blog पर add करना होगा. हमारे ब्लॉग पे आने वाले कोई भी visitors जब उस ad पर click करके प्रोडक्ट को खरीदेगा तो हमें कम्पनी के owner से उसका commission मिलेगा.


यहाँ सवाल ये उठता है की ये एफिलिएट प्रोग्राम कौन सी कंपनी ऑफर करती है. तो इसका मतलब ये है की internet पर ऐसे बहुत से कंपनी है

Share Market किया है

घर बैठे इंटरनेट से पैसे कमाने के तरीके व्हाट्सएप से पैसे कैसे कमाए कोनसी कंपनी एफीलएट  प्रोग्राम की service देती है इसका पता आप google में सर्च करके पता लगा सकते हैं. जैसे कोई एक कंपनी का नाम लिखिए  मान लीजिये Amazon और उस नाम के आगे affiliate लिखिए और google में search करिए, अगर वो compony

affiliate program offer करती है तो आपको उसका link वहां से मिल जायेगा और आप आसानी से उस कंपनी के साथ शामिल हो सकते हैं. लेकिन किसी भी कंपनी से जुड़ने से पहले उसके terms and conditions को जरुर पढ़ें.

Affiliate Program से Payment कैसे मिलती है?

ये अलग अलग affiliate program पर निर्भर करता है की वो अपने affiliates को payment देने के लिए कौनसी methuds का इस्तमाल करते हैं. पर लगभग जितनी सभी program payment के लिए bank में transfer और PayPal का इस्तेमाल  करते हैं. Affiliate program में ऐसे कुछ terms and condition होते हैं जिसके मुताबिक पर affiliates को commission दिया जाता है जैसे

1) CPM (Cost Per 1000 impressions)

ये एक अमाउंट है जो merchant द्वारा (यानि की product के मालिक के द्वारा) affiliate (यानि की जो उनके product को प्रमोशन करता है) उसके blog के page पर लगाये हुए उन प्रोडक्ट के विज्ञापन5 पर 1000 views हुए हैं तो merchant affiliate को उसके हिसाब से commission परदान करता है.


2) CPS (Cost Per Sale) ये पैसे affiliate को तब मिलतें है जब उसके blog के visitor products को खरीदता है. जितने ज्यादे लोग सामान को खरीदेंगे उसके हिसाब पर हर एक खरीदारी पर affiliate को commission मिलता है.

3) CPC (Cost per click): एफिलिएट के ब्लॉग पर लगाये हुए advertisement, text, banner इन सभी visitor के हर click पर उसको पैसे मिलता है.

क्या हम एफीलएट  प्रोग्राम और Google Adsense का use एक साथ कर सकते हैं?

इसका जवाब है हाँ, affiliate marketing से आप Google Adsense के comoerism ज्यादा और कम समय में ही पैसे कमा सकते हैं. और ये Google Adsense के terms of service के against बिलकुल भी नहीं है क्यूंकि ये पूरी तरह से लीगल है.

Popular Affiliate Marketing sites कौन-कौन सी है 

इंटरनेट पर वैसे तो आपको बहुत सारे एफिलिएट मार्केटिंग कम्पनी उपलब्ध है लेकिन मैं आज आपको कुछ बहु चले हुए है  और best companies के बारे मे बताऊंगा जो आपको ज़्यादा commission देता हो


किसी भी एफीलएट प्रोग्राम को जॉइन करने से पहले आपको उस program से सम्बंधित सभी जानकारी पहले ही प्राप्त कर लेना चाहिए. क्योंकि  आप किसी company के affiliate marketing program के विषय में जानना चाहते हैं तब आप किसी भी search engine पर कम्पनी के नाम के आगे affiliate लिख कर सर्च करना snapdeal और अगर उस कंपनी का एफीलएट प्रोग्राम होगा तो search results में दिखेगा।


Best Affiliate Marketing Sites :1.  Flipkart affiliate2.  Snapdeal Affiliate3.  Amazon Affiliate4.  Clickbank5.  eBay6.  Commision Junction 

एफीलिएट मार्केटिंग के sites को join कैसे करें?अगर आप कोई भी Affiliate Marketing Sites से ज्वाइन करना चाहते हैं तब ये आप बड़ी ही आसनी से कर सकते हैं.

इसके लिए आपको कुछ steps by step का पालन करना होगा जिसका पालन करते ही आप आसानी से अपना एफीलियएट प्रोग्राम शुरू कर सकते हैं.
यहां निचे में दिए गए Amazon की एफीलिएट कैसे जॉइन करें ये  में बताऊंगा. सबसे पहले तो आप जिस कंपनी का affiliate program

join करना चाहते है उसके affiliate page में जाना होगा  जैसे कि आपको amazon affiliate ज्वाइन करना है तो आपको Amazon की website  पर जाना होगा जाने के बाद एक new account create करना होगा वहां पर आपसे कुछ ज़रूरी जानकारी पूछी जाती है जैसे की –
 Name Address Email Id Mobile Number Pan card Detail Blog/Website Url ( जहां आप कम्पनी के product promote करेंगे) Payment Details ( जहां आप चाहते हैं की आपकी सारी कमाई भेजी जायगी )सभी जानकारी अच्छे से भर देने के बाद जब आप register कर लेते है तो कंपनी आपके ब्लोग को चेक करने के बाद आपको confirmation email send करता है

.Register करने के बाद आप जब login करेंगे तो आपके सामने एक dashboard आयेगा जहां पर आपको products को select करके उसके affiliate link को copy कर लेना होता है. और उसके बाद  अपने blog/site या फिर social media पर share कर देना है जहां से लोग उस product को खरीदे और आप आराम से घर बैठे पैसे कमा सकते हैं.

Affiliate Marketing से जुड़ी हमेशा पूछे जाने वाले सवाल (Frequently Asked Questions इन हिंदी )

अभी हम कुछ ऐसे ( FAQ (frequently asked questions in hindi) के बारे में जानेंगे जो की लोग अक्सर पूछते रहते हैं और उनका जवाब internet में ढूंडते रहते हैं. तो चलिए Affiliate Marketing के बारे में इतना सबकुछ जान लेने के बाद कुछ ऐसे ही सवालों के जवाब जानते हैं, जो की आगे चलकर आपके Affiliate कैरियर के लिए बहु अच्छा साबित होगा.


क्या एक ही website पर एफिलिएट मार्केटिंग और Ad Networks जैसे कि Adsense को यूज किया जा सकता है?जी हाँ बिलकुल कर सकते हैं, Affiliate Marketing और Ad Networks को एक साथ use किया जा सकता है. कई लोगो के लिए Affiliate Marketing ad networks के मुकाबले, कमाई का ज्यादा अच्छा source है, यदि आप review जैसे ब्लॉग या यूट्यूब चैनल चला रहे हैं तब.


क्या Affiliate Marketing के लिए blog या website होना जरूरी है?ये जरूरी तो नहीं हैं, परंतु अगर आपके पास ऐसी कोई blog या website है तो फिर ये Affiliate Marketing से पैसे कमाने का सबसे अच्छा source होता है, क्यूंकि आपको visitors लाने की जरुरत नहीं होती है बल्कि वो खुद आपके blog पे आते हैं.और आपके review किए हुए product को खुद से खरीदते हैं।

क्या सभी companies या organizations Affiliate programs offer करती है?ये तो कहना आसन नहीं है की सभी companies affiliate program offer करते हैं की नहीं. लेकिन प्राय सभी बड़ी companies ये program offer करते हैं. यदि आप किसी company के affilate program के विषय में जानना चाहते हैं तब आपको बस company + affilite को Google में search करना है और आपको उससे जुड़ी सभी जानकारी search result में मिल जाएगी.


Affiliate Marketing से जुड़ने के लिए क्या कोई खास course या trainnig लेना  पड़ता है?
जी नहीं, आपको बस इस के सम्बन्ध में कुछ चीज़ों की जानकारी होनी चाहिए. Internet में ऐसे बहुत से websites और blogs से जो की Affiliate Markting के विषय में अच्छी जानकारी प्रदान करते हैं.Amazon और flipcart की affiliate program kaise use करे इसके लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे

       👇

instagra से पैसे कैसे कमाए

क्या Affiliate Program join करने के लिए कोई fees लगती है?

जी नहीं सभी Affiliate Program free होती है join करने के लिए. यदि कोई आपको पैसों की मांग करता है join करने के लिए तब आप उसे कभी भी ज्वाइन करने की भूल न करें. क्यूंकि ये हमेशा free होनी चाहिए और होती है।
हम Affiliate Marketing से कितने पैसे कमा सकते हैं?यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है की आप कितने मेहनत और कितने  visitors को इस program की तरफ आकर्षित कर पाएं हैं और उनसे कितनी selling हुई है.

जितना ज्यादा आप sales करा सकते हैं उस हिसाब से ही आपको commission भी मलेगी. इसके लिए जो सबसे अच्छी  बात ये है  की आपके visitors का आपके ऊपर विस्वास होना जरुरी है और इससे पैसे कमाने का कोई लिमिट नही है कितने लोग तो 1 या 2 लाख महीने में कमा लेते है या उससे भी ज्यादा कमाते है ये तो बस example ke तौर पर बताया गया है ।

Affiliate Programs में payment ठीक से न आने पर क्या करना चाहिए।?

यदि कभी आपके कमाई को लेकर कोई तकलीफ होती है तब इस चीज़ के लिए आपको उस एफिलियट कम्पनी के support team से 

contact करना होगा. क्यूंकि कई बार कुछ company policies के चलते कुछ समय के लिए affiliates payment को रोक दिया जाता है. इसमें ज्यादा चिंता करने की जरुरत नहीं है क्यूंकि आप की payment देर में ही सही लेकिन आपको जरुर मिलेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button