बहन पर प्यारी कविता – Poems On Sister in Hindi – बहन पर कविताएँ

Poems on Sister in Hindi – बहन जिसको हम अपना एक प्रिय मित्र भी कह सकते है, भाई और बहन का एक नटखट और अनोखा रिस्ता होता है, जो सबसे पवित्र माना गया है | बचपन में हमारी सबसे प्रिय बहन ही होती है, क्युकी उसके साथ ही खेलते और झगड़ते रहते है, लेकिन बहन जब बड़ी हो जाती है तब उनकी शादी हो जाती है, और भाई बहन का यह अचूक रिस्ता बिछड़ जाता है | So Friends इसी को देखते हुए आज हम आपको कुछ ऐसी कविताओं का संग्रह पेश करेंगे जिनको पढ़कर आपको भी बचपन की याद आने लगेगी |
यह कविताएँ Class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 के बच्चो के लिए भी काफी महत्वपूर्ण रहेंगी | आशा करते है आपको यह संग्रह पसंद आएगा | अगर अच्छा लगे तो Social Media पर भी जरूर शेयर करे | Thanks

बहन पर कविताएँ


बहन पर प्यारी कविता - Poems On Sister in Hindi

लाखों में हजारों में मेरी एक प्यारी बहना हो,
भाई को प्यार करने वाली एक बहना हो !बड़ी हो तो मां बाप की डांट से बचाने वाली,
छोटी हो तो हमारे पीठ पीछे छुपने वाली !बड़ी हो तो चुपचाप हमारी पॉकेट में पैसे रखने वाली,
छोटी हो तो चुपचाप पैसे निकाल लेने वाली !

छोटी हो या बड़ी छोटी-छोटी बातों पर लड़ने वाली,
लाखों में हजारों में मेरी एक प्यारी बहना हो !

बड़ी हो तो गलती पर हमारे कान खींचने वाली,
छोटी हो तुम अपनी गलती पर सॉरी भैया कहने वाली !

खुद से ज्यादा हमें प्यार करने वाली,
लाखों में हजारों में मेरी एक प्यारी बहना हो !!

Written By : Tushar Sharma


Read More :

Raksha Bandhan Status in Hindi

Sister Birthday Shayari in Hindi

Happy Birthday Poem in Hindi

onlinehindimaster.com


Poem On Sister in Hindi


राखी बहनो का त्योहार,
युग-युग और घटनों के प्यार,
भाई राखो इसे सँवार,
बहनो की रक्षा का है तुम पर भार !बहनें करतीं हर वर्ष याद,
सुबे से लेकर आधी रात।
पूर्णनिमा के पुन्यों को ले धागों में,
भाई दे आशीर्वाद,
जुग-जुग जियो, सुहागन रहो।
करो ईश्वर और पति भक्ति,
तुझे मिले लक्ष्मी की शक्ति !!Written By : Ramdeva Raghuveer

बहन पर कविता इन हिंदी


एक लड़की पागल सी है,
उसकी एक अलग पहचान सी है !लड़की झगड़ती हुई हंसती हुई नादान सी है,
जिसे मैं कभी जानता नहीं था !वो लड़की मेरे लिए बहुत खास सी है,
नाम क्या लूं मैं उसका !

नाम क्या लूं मैं उसका,
हमारे रिश्ते की एक अलग पहचान की है !

बहुत सीधी-सी अपनों के लिए अपनी,
पर दूसरों के लिए पहेली सी है !

छोटी सी मेरी दोस्ती,
पर मेरी दोस्ती की एक अलग पहचान सी है !

सब की खुशी में खुश होने वाली,
सबके दुखों में दुखी होने वाली !

अपनों के लिए लड़ने वाली,
Ek लड़की अनजान सी है !

एक बहन और एक भाई की दोस्ती बहुत
खास होती है,
एक दूसरे को चिढ़ाना यह तो बहुत आम बात होती है !

बहुत यादें होती हैं जो बहुत
खास होती है,
बस एक दूसरे को चिढ़ाने वाले इशारों से ही बात होती है !

बस इन्ही हंसी मजाको और,
सुख दुख बांटने से हमारी दोस्ती खास होती है !

इन्हीं लम्हों से हमारी दोस्ती की एक अलग
पहचान सी है ।
इन्हीं लम्हों से हम भाई बहन की एक अलग पहचान सी है !!

Written By :  Poonam Sharma


बड़ी बहन पर कविता


यहाँ से नीचे की ओर आप हमारे द्वारा पा सकते है बड़ी बहन पर कविता, Happy Birthday Beautiful Wishes For Sister Hindi, Sister Poem in Hindi, बड़ी बहन के जन्मदिन पर कविता, छोटी बहन पर कविता, Raksha Bandhan Status in Hindi, Poem On Younger Sister in Hindi, मेरी छोटी बहन पर कविता, बहन के जन्मदिन पर शायरी , बहन की शादी पर कविता, बहन की याद में कविता, बहन की शादी पर बधाई सन्देश , साथ ही साथ Sister Day Poem in Hindi, बहन पर शायरी और कविता हिंदी में, बहन को श्रद्धांजलि कविता, सिस्टर के लिए कविता, Sister Poem in Marathi, शादी मुबारक शायरी हिंदी, साल 2017, 2018, 2019, 2020, 2021 Class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 के लिए यह कविताओं का संग्रह है | जिन्हे आप Social Media के जरिये Whatsapp, Fb, Instaram आदि पर शेयर कर सकते |

कहतीं है
‘एक बात कह रही हूँ
घबराना मत
घर में तो सब ठीक है
पर हाँ किसी की तार, चिठ्ठी, टेलीफोन पा कर
डरना नहीं
एक उम्र के बाद तो
जाना ही है सबको
कोई पहले भी चला जाए
तो भी डरना नहीं
हौसला रखना
हाँ हो सके तो कुछ दिन
घर आ जाना
माँ कुछ उदास है बस’प्रत्युतर में पूछता हूँ
‘माँ के नहीं रहने पर
तुम तो रहोगी न
मेरे पास !!Written By : Harpreet Kaur 

Sister Poem in Hindi


बहन पर प्यारी कविता - Poems On Sister in Hindi

एक बहन अपने भाई के लिए होती है,
कीमती उपहार !कभी-कभी बच्चों सी शरारत,
तो कभी मां सा प्यार !हमारी कामयाबी पर होती है,
हम से भी ज्यादा खुश !

नाकामी के वक्त समेट लेती है,
हमारे सारे दुःख !!

उम्र भर की दोस्ती का बहनों से
मिलता है वरदान,
बरसाए अपनी भाई पर प्यार और करती है
गुमान !

हर दिन करते शुक्रिया अपनी
बहनों को हम,
पास न होके भी जिनका प्यार कभी ना होता कम !

खुशकिस्मत हैं वो जिनकी बहनें करती है,
उन्हें हर पल याद !
उनकी जिंदगी रहे खुशनुमा बस यही है
हमारी फरियाद !!

Written By : Mr. Rhymer


बहन की याद में कविता


बहन पर प्यारी कविता - Poems On Sister in Hindi

मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है,
न जाने कहा खो गयी मेरी प्यारी बहना !बस अब कुछ खट्टी मीठी सी यादी बाकि है,
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है !वो बचपन की झगड़े बहुत याद आते है,
Woh बहन का प्यार बहुत याद आता है !

वो बचपन की प्यारी बाते,
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है !

घर की खुशियों की पोटली थी वो,
न जाने कहा खो गयी मेरी प्यारी बहना !

हर सुख दुःख में मेरे साथ देने वाली,
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है !

अपनी हर खुशियां मेरे साथ बाटने वाली,
हर दुःख को अकेले सहने वाली !

न जाने कहा खो गयी मेरी प्यारी बहना,
मेरी बहन मुझे बहुत याद आती है !!

Written By : Narendra Verma


Best Hindi Poem For Sister


भाई की शादी में ये फुर्र-फुर्र
नाचती बहनें,
जैसे सारी कायनात फूलों से लद गई होहवा में तैर रही हैं हँसी की अनगिनत लड़ियाँ
केशर की क्यारियाँ महक रही हैंयाद आ गई वह बहन
जो होती तो सारी दिशाओं को नचाती अपने साथ

जिसका पता नहीं चला
गंगा समेत सारी गहराईयाँ छानने के बाद भी…

और बहन की शादी में यह भाई
भीतर-भीतर पुलकता
मगर मेंड़ पर संभलता, चलता-सा भी

कुछ-कुछ निर्भार
मगर बगल का फूल तोड़े जाने के बाद पत्ते-सा
श्रीहीन…।

Written By : Harshchandra Pandey 


Didi Poem in Hindi


तेरी हर बात हमेशा अच्छी लगती है,
तेरे जैसा दूजा होगा नही कोई !तू मेरी एक लोती आस है,
मेरी शरारतो की साथी है तू !अपनी हर बात मनवाती है तू,
कही अपनी बात मनवाना भूल तो नही जाएगी,
और मेरी प्यारी बहना तू बहुत याद आएगी !

तू शायद जानती नही में बेहद
प्यार करता हूँ,
तू कही भूल ना जाए बस यही दुआ करता हू !

दुआ है मेरी सारे जहाँ की खुशियाँ
तुझे नसीब हो,
आगे से हमारा ये रिश्ता और भी करीब हो !

मेरी गलतियों को माफ़ करना,
हो सके तो मुझसे रोज बात करना !

मुझे मालूम है तू भी बहुत प्यार करती है,
इसलिए मेरी एक आवाज़ पर हाँ भैया कह के पुकारती हो !

अपनी मुस्कान को हमेशा बनाए रखना,
हर मुसीबत में गले लगाए रखना !

अब तक मेरे लिए बहुत कुछ किया है तूने,
कहीं अब मेरी माँ बनना भूल तो ना जाएगी तू !

और मेरी प्यारी बहना तू मुझे कही भूल तो नही जाएगी,
और मेरी प्यारी बहना तू बहुत याद आएगी !!

Written By : Deepak Agrawal


बहन की शादी पर कविता


एक बहन थी छोटी
उस वक्त की नीली आँखें याद आती हैं
ब्याह दी गई जल्दी ही
गौना नहीं हुआ था अभी
पति मर गया उसकाइक्कीसवीं सदी में
तेजी से विकासशील और परिवर्तनशील इस समाज में
ब्राह्मण की बेटी का नहीं होता दूसरा ब्याह
पिता, भाई, परिवार के रहम पर जीना था उसेनियति के इस खेल को
बीते बारह सालों से झेल रही थी वह
अब मर गई

फाँसी पर झूलने के ठीक पहले
कौनसा विचार आया होगा उसके मन में आखिरी बार

क्या जीवन में कुछ भी ऐसा नहीं रहा था
जिसके मोह ने उसे रोक लिया होता

मात्र तीस साल की उम्र में
क्या ऐसा कोई भी सुख नहीं था
जिसे याद कर उसे
जीने की इच्छा हुई होती
फिर एक बार


मानलेली बहीण कविता


मायेचं साजूक तूप, आईचं दुसरं रूप
काळजी रुपी धाक, प्रेमळ तिची हाककधी बचावाची ढाल, कधी मायेची उबदार शाल
ममतेचं रान ओलेचिंब पाण्यातील आपलंच प्रतिबिंबदु:खाच्या डोहावरील आधाराचा सेतू
निरपेक्ष प्रेमामागे ना कुठला हेतू

कधी मन धरणारी, तर कधी कान धरणारी
कधी हक्काने रागावणारी, तर कधी लाडाने जवळ घेणारी

बहिणीचा रुसवा जणू खेळ उन सावलीचा
भरलेले डोळे पुसाया आधार माय माउलीचा

कुठल्याच नात्यात नसेल एवढी या नात्यात ओढ आहे
म्हणून बहिणीचं नातं चिरंतन गोड आहे

भरलेलं आभाळ रितं कराया तिचीच ओंजळ पुढे येई
जागा जननीची भरून काढण्या निर्मिली आई नंतर ताई


Web Searches : बहन की शादी पर कविता, बहन की शादी की सालगिरह पर कविता, Poem On Sister in Hindi & Marathi, बहन को श्रद्धांजलि कविता, Chhoti Bahen Par Kavita, बहन की शादी की कविता, Latest Poem On Sister in Hindi, बहन पर कविता हिंदी में |

Read More : 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here