चाचा नेहरू जी की छोटी कविताएं- Poem On Jawaharlal Nehru in Hindi for class 1-12

Poem On Jawaharlal Nehru- पंडित जवाहर लाल नेहरु एक महान व्यक्ति, नेता, राजनीतिज्ञ, लेखक और वक्ता थे। इनका जन्म 14 नवंबर 1889 में उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर में हुआ था। नेहरु को बच्चों से बहुत प्यार था और वो गरीब लोगों के भी हमदर्द और दोस्त थे।  भारत को एक सफल राष्ट्र बनाने के लिये पंडित नेहरु ने दिन रात कड़ी मेहनत की। वो आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री बने और इसीलिये उन्हें आधुनिक भारत का निर्माता भी कहा जाता है। वो एक ऐसे व्यक्ति थे जिनके पास दूरदृष्टी, ईमानदारी, कड़ी मेहनत, समझदारी, देशभक्ति और बौद्धिक शक्तियाँ थी | आज के इस पोस्ट में हम आपको jawaharlal nehru ki kavita, pandit jawaharlal nehru kavita, jawaharlal nehru kavita, jawaharlal nehru kavita hindi, Poem On Jawaharlal Nehru in Hindi, चाचा नेहरू जी की छोटी कविताएं,  चाचा नेहरू par kavita, jawaharlal nehru poem in hindi, आदि की जानकारी जिसे आप अपने स्कूल में जवाहरलाल नेहरू जयंती के लिए प्रतियोगिता, कार्यक्रम या भाषण प्रतियोगिता में प्रयोग कर सकते है| ये कविता खासकर कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए दिए गए है|


https://onlinehindimaster.com/


Poem On Jawaharlal Nehru in Hindi


तुमने किया स्वदेश स्वतंत्र, फूंका देश-प्रेम का मन्त्र,
आजादी के दीवानों में पाया पावन यश अभिराम !
चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

सबको दिया ह्रदय का प्यार, चाहा जन-जन का उद्धार,
भारत माता की सेवा में, समझ लिया आराम हराम !
चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

पंचशील का गाया गान, विश्व -शांति की छेड़ी तान,
दुनियां को माना परिवार, बही प्रेम-सरिता अविराम !
चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

पाकर तुम-सा अनुपम लाल, हुआ देश का ऊँचा भाल,
भूल नहीं सकते तुमको हम, अमर रहेगा युग-युग नाम !
चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !


चाचा नेहरू जी की कविता


नेहरू चाचा तुम्हें सलाम।
अमन-शांति का दे पैगाम॥

जग को जंग से बचाया।
हम बच्चों को भी मनाया॥

जन्मदिवस बच्चों के नाम।
नेहरू चाचा तुम्हें सलाम॥

देश को दी हैं योजनाएं।
लोहा और इस्पात बनाए॥

बांध बने बिजली निकाली।
नहरों से खेतों में हरियाली॥

प्रगति का दिया इनाम।
नेहरू चाचा तुम्हें प्रणाम॥


चाचा नेहरू के बारे में कविता


आइये अब हम आपको jawaharlal nehru poems, jawaharlal nehru poem, jawaharlal nehru poem in english, jawaharlal nehru poems in tamil, चाचा नेहरू के बारे में कविता, pandit jawaharlal nehru poem in marathi, jawaharlal nehru malayalam poem, jawaharlal nehru poems in hindi, चाचा नेहरू जी की कविता, पंडित जवाहरलाल नेहरू कविता लैंग्वेजकिसी भी भाषा जैसे Hindi, हिंदी फॉण्ट, मराठी, गुजराती, Urdu, उर्दू, English, sanskrit, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Malayalam, Nepali, Kannada के Language व Font में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का full collection जिसे आप अपने स्कूल व सोशल नेटवर्किंग साइट्स जैसे whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं|


चाचा नेहरु प्यारे थे,
भारत माता के राजदुलारे थे!,
देश के पहले पधानमंत्री थे,
स्वतंत्रता के सैनानी थे!

बच्चे इनको सदा प्यार से,
चाचा नेहरू कहते।
चाचाजी इन बच्चों के बीच,
बच्चे बनकर रहते है॥

अचकन में फूल लगाते थे,
हमेशा ही मुस्काते थे!
बच्चो से प्यार जताते थे!
चाचा नेहरु प्यारे थे!

देश की खातिर जीना-मरना
यही आपने हमें सिखाया
सदा सभी से प्रेम से रहना
जीवन का उद्देश्य बताया

सब नेताओ से न्यारे तुम, बच्चो को सबसे प्यारे तुम,
कितने ही तूफान आ गए, लेकिन कभी नहीं हारे तुम ।
आजादी की लड़ी लड़ाई, बिना तमक, बिना तमाचा,

देश विदेश यह घूमते थे,
बहुत सारी जानकारी प्राप्त करते थे,
फिर भी अपने देश से यह प्यार करते थे!
चाचा नेहरु राजकुमारे थे!


बाल दिवस पर अच्छी सी कविता


https://onlinehindimaster.com/


एक गुलाब ही सब पुष्पों में,
इनको लगता प्यारा।
भारत मां का लाल यह,
सबसे ही था न्यारा॥

हम भारत के भाल बनेंगे, वीर जवाहरलाल बनेंगे,
सीखी तुमसे बहादुरी है, हम दुश्मन के काल बनेंगे।
तुमने जो सपने देखे, साकार करें हम, यह अभिलाषा,

सारे जग को पाठ पढ़ाया,
शांति और अमन का।
भारत मां का मान बढ़ाया,
था यह ऐसा लाल चमन का॥


Jawaharlal Nehru Poems in Hindi


रहा प्यार की
दिखलाते थे,
चाचा नेहरू! चाचा नेहरू!

नहीं किसी से भी डरते थे
आगे ही आगे बढ़ते थे,
अमन-चैन था उनका सारा
दुष्ट फिरंगी जिससे हारा।
अंग्रेजों को
दहलाते थे,
चाचा नेहरू! चाचा नेहरू!

आजादी अधिकार हमारा
ऊँचा रहे तिरंगा प्यारा,
बढ़कर हम देंगे कुर्बानी-
गरज उठा था यह सेनानी।
नदिया, सागर
खौलाते थे,
चाचा नेहरू! चाचा नेहरू!

सीने पर हँसता गुलाब था
हर ढंग उनका लाजवाब था,
बच्चों में बच्चे बन जाते
साथ-साथ कहकहे लगाते।
इसीलिए
इतना भाते थे,
चाचा नेहरू! चाचा नेहरू!


 Poem On Chacha Nehru In Hindi


ऐसी शिक्षा हमें आपसे
मिली यही सौभाग्य हमारा
मरकर भी हो गया अमर जो
चाचा नेहरू सबका प्यारा

नेहरू चाचा प्यारे चाचा
बच्चों की आँख के तारे चाचा

चाचा नेहरु का बच्चों से,
बहुत पुराना नाता.
जन्म दिवस चाचा नेहरु का,
बाल दिवस कहलाता.

चाचा नेहरु ने देखे थे,
नव भारत के सपने .
सपने पूरे कर सकते थे,
उनके बच्चे अपने|


Pandit Jawaharlal Nehru Poem in Marathi


प्रेम केले आहे
दर्शविले होते
काका नेहरू! काका नेहरू!

कोणालाही घाबरत नाही
पुढे जाणे,
अमन चान त्याचे संपूर्ण होते
वाईट फॉक्स
ब्रिटिशांना
घाबरले होते,
काका नेहरू! काका नेहरू!

स्वातंत्र्य आमचे आहे
अत्यंत तणावपूर्ण गोंडस,
वाढत्या प्रमाणात आम्ही बलिदान देऊ.
गडगडाटी वादळ होता.
नाडिया, सागर
Screams
काका नेहरू! काका नेहरू!

छातीत एक हसरा गुलाब होता
तिची शैली आश्चर्यकारक होती,
मुले मुले होतात
एकत्र बोलणे
म्हणूनच
खूप आवडले
काका नेहरू! काका नेहरू!


You May Also Like:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here